39 thoughts on “Lecture on Nationalism at JNU #5 – Nivedita Menon

  1. What she is doing is male bashing, questioning the presently taught idea of India, questioning oneness,unity, discipline. She compares idea of India by taking Europe as ideal type

  2. Aaj aap k ghar par aapke padosi kabja kre to aap us jamin ke tukde ke liye jan n deker bhag jaige

  3. Aap jis desh ki bat kr rahi h wasa bna diya jai to wo ek din bhi survive karega china pak us par kabja kr dega m manta hu ki duniya k har desh har aadmi me kuch kamiya hoti h mujh me h aap me bhi hogi

  4. मैडम आप किताबो से बाहर निकलकर देख लीजिए इस प्रकार आप अपने परिवार मे भी नही रह सकती क्योकि विचार तो दो व्यक्ति के मिलते नही ह

  5. श्रीमति जी आप के हिसाब से हर अलग भाषा वाले राज्यो को आजाद कर देना चाहिए लेकिन मै कहता हू उस आजाद राज्य मे भी लोग ऐक नही हो सकते क्योकि मानव की प्रक्रति है दुसरे से अलग होना आयरलैंड मे भी जब जनमत संग्रह हुआ तो 49% जनसंख्या ukसे अलग होना चाहती थी

  6. हिंदी मे बोल के हिंदी को गौरव कम कर ने में अपना योगदान दे दिया तुमने खैर हिंदी अथाह सागर है और तुम जैसे करोडो नाकारा से निपट लेने में समर्थ। हजारो जवानो ने जिस बर्फीले रेगिस्तान/ग्लेशियर की रक्षा में जान दे दी वो तुम्हे यूज़लेस लगता है क्योंकी वो बंजर है! भगवान न करे कल को अगर तुम्हारी मा को परैलिसिस या ऐसी कोई शारीरिक स्थिति आ जाए तो तुम तो उसे भी छोड़ ही दोगी क्योकि यूज़लेस है वो! तुम्हारी बाते तुम्हारे मूल्यों की नीचता दिखाती है स्वार्थी हो तुम अगर राष्ट्र की परिकल्पना से इतनी आपत्ति है तो फिर अपना पासपोर्ट छोड़ दो, नेश्नलिटी वापिस कर दो, एन्टार्टिका चली जाओ शायद वो फ्री लैंड है , लेकिन तुम अब भी उसी राष्ट्र द्वारा संचालित संसथान में काम करके वेतन क्यों भोग रही हो ? कौन ज़बरजस्ती कर रहा है तुमसे ? तुमसे ज्यादा बेशर्म और बदनीयत इन्सान कम ही देखे मैंने में गुजरती हु, महाराष्ट्र में पला बड़ा हुवा हु हिंदी मेरे लिए गुजरती, मराठी, अंग्रेज़ी के बाद चौथी भाषा है लेकिन मेरे और मुज जैसे करोडो के मनमे उसके लिए कोई दुर्भाव नहीं क्यों ? क्योकि वो मेरे हममुल्क भाईओ की, मेरे दोस्तों की, मेरे गुरुओ की भाषा है भाषा कोइ भी हो वो भाषा होती है उसमे राजनीति घुसेड़ना तुम जैसे कमजर्फ ही सोच सकते है, इस देश की ५००० साल पुरानी संस्कृति और सभ्यता है, सहनशीलता है की तुम उसकी राजधानी में खड़ी हो के इस देश के सपुतो को गरिया सकती हो, उसे तोड़ने की बात कर सकती हो आस्तीन का साप होता है लेकिन तुम तो सापो का आस्तीन हो, शर्म से डुब मरो!!

  7. People in different states of india are safe because they agree to be united to form a nation she wants to scatter states what will be the consequence other neighbouring countries won't allow small independent states they will forcefully submerge them .
    And infact small independent states can' t exist

  8. i did not listen to the complete lecture .. but i disliked the video

  9. At 1.11.22 the lady which was angry, and obviously any Indian would be when your language is being insulted, is being silenced what kind of world do they spinless creatures belong to what a mess have these people cretead and these young minds which need to take our country ahead are being made to revolt against it, its really shoking to see these kind of videos, god only knows where will these haters take our country to.

  10. What kind of speech is this? very bitchy to say India occupied the Kashmir. Through her out and I am not sure why are you guys sitting and entertaining these terrorist comments. What does this lady get spreading the hatred? Sickening. None of her major points in her speech are accurate.

  11. JNU generates lots of negativity for Bharat and Bhartiya Sanskriti…..GOI should close such institutions

  12. i can't believe i am paying my tax for someone spreading venom like this in a government funded university

  13. I think these people should be thrown into the Somalian region wherein, they can study the Somalian history and then preach knowledge there. I still fail to understand is this University truly a place of knowledge or, is this a place where anti-nationals are bred? Shame

  14. सरकारी लंच बहुत खाया है।
    अब सरकारी पंच खाओगे।
    जय श्रीराम

  15. जब देश हमारा लोग हमारे तो बंटवारा करने वाले अंग्रेज़ कौन होते हैं
    इतनी ही वकालत करनी है ना तो जा ब्रिटेन अंग्रेज़ लोग कुत्ते को रोटी खिलायेगे लेकिन तुझे नही

  16. Left has changed education especially history into a tool to create more naxals much like terrorist outfit how use religion to create jihadis

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *